Emergency Fund क्या होता है?

“नमस्कार दोस्तों “

जिंदगी के कुछ ऐसे भी होते हैं जिस समय हमारे पास पैसे  नहीं रहते हैं, उस समय हम अपने हाथ पड़ोसियों, रिश्तेदारों, मित्रो के सामने पसारते है लेकिन वो कहते है ना की मुसीबत के वक्त कोई भी काम नहीं आता है।

लेकिन आज हम आपको इसलिए के माध्यम से ऐसी जानकारी देने वाले हैं जिसके माध्यम से आप अपने जीवन को आने वाली धन की कमी से बचा सकते हैं और बचाए हुए रुपए को आप मुसीबत के समय काम में ले सकते हैं।

आज हम जिस टॉपिक की बात करने वाले हैं वह इमरजेंसी फंड क्या होता है? – Emergency fund in hindi.

इसलिए लेख को शुरू से लेकर अंत तक पूरा पड़े तभी जाकर आप इमरजेंसी फंड क्या होता है इसके बारे में संक्षिप्त जानकारी ले पाएंगे। 

इमरजेंसी फंड क्या होता है?

इमरजेंसी फंड वह होता है जो आप मुसीबत के वक्त के लिए बचा करके रखते हैं यह आप बैंक अकाउंट या फिर अन्य किसी भी माध्यम में रख सकते हैं। 

इमरजेंसी फंड को समझने के लिए आपको तीन उदाहरणों को अच्छे तरीके से समझना होगा उसके बाद आपको इमरजेंसी फंड समझ में आ जाएगा क्या होता है, हालांकि तीन उदाहरण मैंने सावधानी के तौर पर लिए हैं वैसे बहुत से उदाहरण है जिनमें इमरजेंसी फंड उपयोग किया जाता है चलिए देखते हैं तीन उदाहरण :

(1) मान लो आप एक कंपनी में कार्य करते हैं अचानक किसी कारणवश वह कंपनी आपको छोड़नी पड़ गई आप बेरोजगार होकर बैठ गए। वर्तमान समय ऐसा समय है कि दिन में खर्चों की कोई लिमिट नहीं है, क्योंकि महंगाई का दौर है। 

इस बीच आपका सबसे ज्यादा उपयोग में आने वाला धन आपका इमरजेंसी फंड है जो आपकी मुसीबत के वक्त आपकी सहायता करते हैं। 

(2) भगवान ना करे किसी को बीमारी लगे लेकिन वर्तमान समय में मनुष्य किसी न किसी बीमारी के चलते परेशान जरूर हैं।  इस बीच भविष्य में अगर आपको किसी भी तरीके की कोई बीमारी हो जाती है, तो आप अपने पूरे रुपए उसी बीमारी में लगा देते हैं और बैठ जाते हैं। 

लेकिन यदि आपके पास इमरजेंसी फंड रहेगा तो आप अच्छे से अपना इलाज करवा सकेंगे और अपने रुपए की बचत भी कर सकेंगे। 

(3) मनुष्य की इच्छाओं का कभी अंत नहीं होने वाला है इस बीच  परिवारिक मामलों में हमें कोई वस्तु खरीदनी पड़ जाए लेकिन हमारे पास रुपया नहीं है। इस बीच अभी हमारे पास है इमरजेंसी फंड  हो तो हम आसानी से अपनी मनपसंद की वस्तु को खरीद भी सकते हैं दूसरों के ब्याज के बोझ से भी बच सकते हैं। 

हालांकि इसके बहुत सारे उदाहरण हो सकते हैं दैनिक जीवन में लेकिन हमने दो-तीन उदाहरणों के माध्यम से ही समझाया है कि इमरजेंसी फंड क्या होता है। 

किसी भी मुश्किल वक्त में पैसों की कमी  मनुष्य को चकनाचूर कर सकती हैं।  मुसीबत के वक्त तो अपने भी काम नहीं होते इस बीच यदि आपके पास अपना स्वयं का बचाया हुआ धन रहेगा तो आप बिना किसी के दबाव में मनचाहा रुपया अपने ऊपर खर्च कर सकते हैं। 

इमरजेंसी फंड के लिए पैसे कहा सहेज कर रखे?

इमरजेंसी फंड का मतलब होता है कि जरूरत के समय अपने पैसों को उपयोग में लेना। अतः अपने पैसों को ऐसी जगह रखें जहां आप तुरंत मुसीबत के समय उन्हें निकाल सके अगर मुसीबत के समय जो पैसे काम नहीं है बाद में वह किस काम के।

नीचे हम आपको कुछ अच्छे-अच्छे विकल्प बता रहे हैं जिनसे आप इमरजेंसी फंड का रूप है अच्छी तरीके से सेव करके रख सकते हैं जरूरत पड़ने पर तुरंत उनका उपयोग कर सकते हैं:

(1) जहां तक संभव हो आप अपनी कमाई का 10 परसेंट हिस्सा इमरजेंसी फंड के लिए बचा कर रखें यह रुपए आप अपने पास अलग से निकाल  कर भी रख सकते हैं।  आप महीने में इमरजेंसी फंड रुपए के तौर पर गुल्लक या किसी ऐसी सामग्री में रखें जिन्हे केवल आप जरूरत के समय ही उन्हें निकाल पाएं। 

(2) दूसरा तरीका यह है कि आप अपने बचत के रुपए को अपने बचत खाते में रखें आप मुसीबत पड़ने पर उन लोगों को अपने बैंक द्वारा निकला सके। 

(3) तीसरा तरीका है कि आप अपने रुपए को लिक्विड म्यूचल फंड में रख सकते हैं क्योंकि लिक्विड म्युचुअल फंड आपको एक बहुत बढ़िया फैसिलिटी प्रदान करता है यह आपको जरूरत के समय अपने  जो धन डिपॉजिट किया है आप आप निकाल सकते वह आप  निकाल सकते हैं। बहुत एक्सपर्ट से हैं जो यही राय देते हैं कि आपको अपने इमरजेंसी फंड का बचा हुआ है कुछ हिस्सा लिक्विड म्युचुअल फंड में ही डालना चाहिए। 

(4) आपको अपने भविष्य के लिए कुछ ऐसी वस्तु को संग्रह करके अपने पास रखना चाहिए जिन क्यों आवश्यकता पड़ने पर बेच करके आप धन की प्राप्ति कर सके, यह वस्तुए  बहुत प्रकार की हो सकती है जिसे सोना, गाड़ी इत्यादि।

क्योंकि यह वस्तु ऐसी होती है जिन्हें हम अपनी जरूरत के समय बेच करके इमरजेंसी फंड के रूप में रुपया इन से प्राप्त कर सकते हैं। 

इमरजेंसी फंड के रुपए की बात करो तो आपके पास कम से कम अपनी कमाई के 5 -6 महीनों की रकम की बचत होना आवश्यक है। वर्तमान समय में सरकारी व प्राइवेट बैंकों में आपके रुपए को शेविंग करने के लिए बहुत सी योजनाएं चलाई जा रही हैं जिनमें आप अपने रुपए डिपॉजिट कर के वहां से अच्छा खासा इमरजेंसी फंड इकट्ठा कर सकते हैं। 

 यदि आप लंबे समय के बाद इमरजेंसी फंड का इस्तेमाल करने की सोच रहे हैं तो आप एलआईसी वगैरह मैं भी अपने पैसे लगा सकते हैं आने वाले समय में आपको उससे बहुत अच्छा रिटर्न्स  देखने को मिल सकता है।

Conclusion

 देखिए दोस्तों मनुष्य के जीवन में सुख और दुख तो चलते रहते हैं कभी अच्छा समय तो कभी बुरा समय इसलिए आपको अपने बुरे समय के लिए तैयार रहना होगा। 

 आपको अभी से अपने आने वाले समय में होने वाले धन के अभाव को  देखते हुए अभी से इमरजेंसी फंड इकट्ठा करने में जुट जाना चाहिए इससे आपको ही फायदा है ना तो आप किसी दूसरे के रुपए के ब्याज के नीचे दबेंगे और नाही आप किसी दूसरे के दबाब मे रहेंगे। 

 आशा करता हूं दोस्तों आपको मेरे द्वारा दी गई जानकारी अच्छे से समझ में आ गई होगी। 

“धन्यवाद “

FAQ

इमरजेंसी फंड का पैसा कब उपयोग में लेना चाहिए?

बहुत से लोगों का यह सवाल है कि वह अपने इमरजेंसी फंड का रुपया कब उपयोग में लें, तो इसका सीधा सा जवाब यह है कि आपको इमरजेंसी फंड का रुपए छोटे-मोटे कामों के लिए नहीं करना है आपको इसका उपयोग बहुत ही ज्यादा जरूरत पड़ने पर ही करना है उदाहरण के लिए मान लो आप बेरोजगार हो गए हो, या फिर आपको किसी भी तरीके की कोई बीमारी या अन्य किसी भी तरह की कोई बड़ी बीमारी हो गई हो तब, या फिर आपको कहीं भी बाहर यात्रा करनी है उस समय भी आप इमरजेंसी फंड का उपयोग कर सकते हैं। 

इमरजेंसी फंड में कितने रुपए तक इकट्ठा करके रख सकते हैं?

Ans] अक्सर लोगों का एक सवाल बहुत ज्यादा पूछा जाता है कि इमरजेंसी फंड में हम कितना रुपए खट्टा करके रख सकते हैं, इसके लिए मे  आपको बताना चाहूंगा कि इसकी कोई लिमिट नहीं है यह सब आप की कमाई पर निर्भर करता है, कुछ लोग तो 10 लाख तक भी इमरजेंसी फंड के रूप में अपने पास सेव करके रखते हैं।

अगर मोटा मोटी एक मिडिल क्लास पति की बात करो तो उसके पास कम से कम 12 से 6 महीने की रकम तो इमरजेंसी फंड के रूप में होनी ही चाहिए प्रत्येक व्यक्ति को अपनी कमाई का कम से कम 10% बचा कर रखना है। 

Post a Comment

Previous Post Next Post

Ads

Ads

Contact Form