12 आदते जो आपके दिमाग को बर्बाद कर देगी


“नमस्कार मित्रो”

वर्तमान समय में मनुष्य बहुत सी आदतों का शिकार बन चुका है जिसके चलते वह अपने दिमाग को प्रभावित कर रहा है। वर्तमान समय में हम देख रहे हैं कि मनुष्य तनाव में आकर आत्महत्या जैसी घटना को अंजाम दे देता है यदि हम इन बुरी आदतों को अपने दैनिक दिनचर्या से निकाल दे तो हम अपना खुशहाल जीवन जी सकेंगे।

आज की इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे की ऐसी 12 आदते जो आपके दिमाग को बर्बाद कर देगी |12 bad habits that damage your brain. इसलिए यह पोस्ट आपके लिए बहुत ही फायदेमंद होने वाली है इसलिए इस पोस्ट को शुरू से लेकर अंत तक पूरा पढ़ें और अपने जीवन में इन 12 आदतों को सदैव के लिए छोड़ दें।

(1) अपने दिमाग़ मे ज्यादा जानकारिओं का साझा करना

 वर्तमान समय में मनुष्य की इच्छा रहती है कि वह सभी चीजों को एक साथ ग्रहण कर ले लेकिन वही है भूल जाता है कि ज्यादा मात्रा में कोई भी कार्य किया जाए वह हानिकारक ही होता है। 

 जब हम ज्यादा मात्रा में सूचनाओं का संग्रह कर लेते हैं लेकिन ज्यादा सूचनाओं की वजह से हमारे दिमाग पर एक लोड पड़ जाता है जिस वजह से हमें depression जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। 

 हमारा दिमाग ज्यादा सूचनाओं की वजह से डायवर्ट होने लगता है और कभी-कभी हम पागलों जैसी हरकत भी करने लग जाते हैं। 

(2) अधिक मात्रा में मिठाई खाना

 अक्सर देखा जाता है कि ज्यादा मात्रा में शुगर लेने से हमारे शरीर की प्रोटीन न्यूट्रिशन लेने की क्षमता धीरे-धीरे कम होने लगती है जिस वजह से इसका असर हमारे दिमाग पर पड़ता है। 

 अधिक मात्रा में शुगर लेने से हमें शुगर जैसी बीमारियों जैसे डायबिटीज आदि से गिर जाते हैं अधिक मात्रा में शुगर का सेवन करने से हमारी सेल्स मे  भी कमी आने लगती है जिस वजह से हमारी शक्ति धीरे-धीरे क्षीण होने लगती है हमारे दिमाग का सर्वांगीण विकास कम होने लगता है। 

(3) सोने पर ध्यान ना देना

 वर्तमान समय में मनुष्य की जिंदगी भागदौड़ भरी हो गई है उसे किसी भी चीज की फुर्सत नहीं है अपनी सभी कामों को भागते भागते पूरा करता है। 

 भागदौड़ भरी जिंदगी के कारण वह सही से सो भी नहीं पता है धीरे-धीरे उसकी आदत बन जाती है आगे चलकर उसके जीवन को बर्बाद कर देती है। 

 क्योंकि जब तक हम सोएंगे नहीं तब तक हमारे शरीर में एनर्जी का संचार नहीं हो सकता है और हमारे दिमाग के विकास के लिए सोना बहुत आवश्यक है। 

(4) ज्यादा मात्रा में खाना लेना

 अक्सर यह देखा गया कि जो लोग ज्यादा मात्रा में खाना लेते हैं उनके सोचने और समझने की क्षमता बहुत कम होने लगती है कि उनके ऊपर सदैव खाने का भूत सवार रहता है जिस वजह से  उनका दिमाग भारी-भारी रहता है। 

 ऐसे लोगों का पढ़ाई में भी बिल्कुल मन नहीं लगता है और भी किसी कार्य में इनका मन नहीं लगता है यह कोई भी कार्य आलस्य से करते हैं ऐसे लोगों का भविष्य बहुत ही अंधकार में होता है अपने जीवन में किसी भी लक्ष्य का निर्धारण आसानी से नहीं कर पाते हैं ना ही उन्हें कभी पूरा कर पाते हैं। 

(5) पोर्न की आदत

जैसा कि हमारा देश डिजिटल होता जा रहा है सभी काम इंटरनेट के माध्यम से हो रहे हैं और पढ़ाई का माध्यम भी ऑनलाइन हो चुका है। इस बीच लोगों को ऐसी बहुत सी बुरी आदत पड़ गई हैं जो उनके जीवन को नरक बनाती चल रही है उन्हीं आदतों में से एक आदत है पोर्न की। 

आजकल बहुत से युवा इन आदत के चक्कर में पढ़कर अपने दिमाग निरंतर डैमेज करते जा रहे हैं पोर्न देखने मनुष्य की सोचने समझने की क्षमता भी निरंतर कम होती जा रही है क्योंकि पोर्न वीडियो में दिखाई जाने वाली सभी सामग्रियां व्यक्ति के दिमाग को प्रभावित करते हैं। 

(6) फोकस का अभाव

वर्तमान समय मे  व्यक्ति किसी कार्य का प्रारंभ करता है तो वह जल्द से जल्द उसे  निपटाने का प्रयास करता है वह  कभी भी उस काम को पूरे फोकस के साथ नहीं कर पाता है। 

 उदाहरण के तौर पर पता नहीं कितने लोग इस पोस्ट को अभी पड़ेंगे लेकिन ज्यादातर लोग इस पोस्ट को शुरू में पढ़कर ही छोड़ देंगे जो दर्शाता है कि लोगों में किसी भी चीज को सीखने की इच्छा शक्ति नहीं है और किसी भी कार्य को करने के प्रति उनमें फोकस नहीं है। 

 यदि आप अपने कार्यों के प्रति फोकस नहीं रखेंगे तो आपके दिमाग का सर्वांगीण विकास नहीं हो पाएगा धीरे-धीरे आपके सोचने समझने की क्षमता भी मंद पड़ जाएगी। 

(7) आलस्य करना

वो कहा  जाता है ना कि आलस्य ही मनुष्य का सबसे बड़ा शत्रु है मनुष्य आलस के चक्कर में अपने बड़े से बड़े काम को भी नहीं कर पाता है।

जिन व्यक्तियों के जीवन में आलस्य रहता है वह कभी भी अपने जीवन में सफल नहीं बन पाते हैं कहीं आप एक स्टूडेंट हो या फिर कोई भी वर्क प्रोफेशनल अगर आप जीवन में कोई भी बड़ा मुकाम हासिल करना चाहते हैं तो अपने जीवन से आलस्य नाम के शब्द को सदैव के लिए हटा कर रख दें आलस्य करने से आपके दिमाग पर बहुत बुरा असर पड़ता है आपके दिमाग की प्रगति भी आदत से के कारण रुक जाती है। 

(8) आसान काम के पीछे भागना

वर्तमान समय  में मनुष्य उन कार्यों को पहले करता है जो बिल्कुल आसान होते हैं इससे क्या होता है कि वह धीरे-धीरे उसकी आदत बन जाती है कभी भी मुश्किल कार्य को जो अपनी जिंदगी में नहीं कर पाता है। 

क्योंकि यदि आप जिंदगी में मुश्किल कार्यों को नहीं करेंगे तब तक आप के दिमाग पर कोई जोर नहीं पड़ेगा नहीं आपको कुछ सीखने को मिलेगा इसलिए ज्यादा से ज्यादा प्रॉब्लम को सॉल्व करना सीखो इससे आपका दिमाग की क्षमता में विकास होगा। 

(9) mobile फ़ोन का ज्यादा इस्तेमाल

 मोबाइल फोन का ज्यादा इस्तेमाल भी आपके दिमाग के लिए बहुत हानिकारक है क्योंकि मोबाइल से बहुत प्रकार की अल्ट्रावॉयलेट किरणें रिलीज होती हैं जो हमारे दिमाग पर सीधा प्रभाव डालती है। 

 और मोबाइल फोन से हम कभी-कभी ऐसी सामग्रियां  देख लेते हैं जो हमारे दिमाग के लिए हानिकारक होती हैं इसलिए हमें कम से कम मोबाइल फोन का इस्तेमाल करना चाहिए मैं कहूंगा कि यदि आप एक स्टूडेंट हो तो आपको मोबाइल फोन का इस्तेमाल करना ही नहीं चाहिए क्योंकि इसकी वजह से एक स्टूडेंट अपने लक्ष्य से भटक जाता है। 

(10) नशे की लत

 अक्सर आपने समाज में देखा होगा जो लोग नशे कि लत से जूझ रहे होते हैं उन्हें समाज में मान सम्मान की प्राप्ति कभी नहीं होती है और ना ही लोग उनसे मिलजुल कर रहते हैं। 

 जो लोग नशे की लत से जूझ रहे होते हैं उनके दिमाग सोचने समझने की क्षमता बिल्कुल खत्म हो जाती है अपने शब्दों में गाली गलौज जैसे गलत शब्दों का अपनी वाणी में उपयोग करते हैं। 

 नशे की लत बहुत प्रकार की होती है जैसे किसी को दारू की पीने की आदत रहती है किसी को सिगरेट पीने की, तो किसी को गांजा वगैरह पीने की भी आदत रहती है। अगर आपको खुशहाल जीवन जीना है तो इन सभी बातों को अपने जीवन से निकाल दो। 

(11) व्यायाम नहीं करना

वर्तमान समय में मनुष्य की सबसे बड़ी गलत बात  यह है कि वह सुबह उठकर व्यायाम नहीं करता है क्योंकि व्यायाम करने से हमारे शरीर भी स्वस्थ रहता है और दिमाग का विकास भी अच्छे से होता है।

यदि हम भी आम नहीं करते हैं तो हमारा शरीर धीरे-धीरे नष्ट होने लगता है और दिन भर के विचारों से हमारा दिमाग पर भी ज्यादा असर पड़ने लगता है।

(12) लोगो से इमोशनली लगाव रखना

आजकल के  लोगों की सबसे गलत आदत यह है कि वह लोगों से बिना किसी जान पहचान की इमोशनल लगाव रख लेते हैं लेकिन बाद में जाकर उन्हें खुद को ही पछताना पड़ता है जो सीधा  उनके दिमाग पर असर करता है। 

हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि वर्तमान समय में प्रत्येक मनुष्य अपने स्वार्थ के लिए ही किसी दूसरे को गले लगाता है हालांकि ऐसे बहुत कम लोग होते हैं जो बिना किसी स्वार्थ के आपके साथ जुड़ना चाहते हैं। 

 इसलिए किसी भी व्यक्ति से इतनी जल्दी इमोशनली लगाव  नहीं रखना चाहिए कि वह आगे चलकर आपको परेशान करें। 

Conclusion

आशा करता हूं दोस्तों आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी अच्छे से समझ में आ गई होगी पोस्ट के अंत में यही कहूंगा यदि आप अपने जीवन को खुशहालनुमा बनाना चाहते हैं अपने जीवन से इन 12 आदतों को सदेव के लिए निकाल दे क्योंकि यह आदते आपको कभी भी सफल नहीं होने दे सकती हैं।

अगर जिंदगी में कुछ बड़ा मुकाम हासिल करना चाहते हैं तो कभी भी गलत आदतों का शिकार मत बने।

1 Comments

Previous Post Next Post

Ads

Ads

Contact Form